हमले के बावजूद रेड मारने वाले इस टैक्स ऑफिसर की जांबाज़ी को पूरा देश कर रहा है सलाम

हमारे भारत देश के बारे में तो आपको पता ही होगा। हमारे नेता कैसे है और हमारे बड़े-बड़े बिजनेसमैन कैसे है। भ्रष्टाचार करने में हमारे देश के नेता सबसे आगे है। वही बड़े-बड़े बिजनेसमैन की बात करे तो वो लोग टैक्स भरते तो है, लेकिन जितना भरना होता है उनके कई गुना कम देते है। आज ज्यादातर नेता और बड़े बिजनेसमैन का काला धन स्विस बैंक में पड़ा हुआ है। आज इसी भ्रष्टाचार ने देश के विकास को रोक दिया है। भ्रष्टाचार एक ऐसी चीज है जो हमारे देश की इकॉनमी पर बहुत बुरा प्रभाव डालती है। इसी भ्रष्टाचार पर लगाम लगते हैं हमारे आयकर विभाग के अधिकारी। आयेदिन बड़े बड़े लोगों के घरों दफ्तरों से आईटी ऑफिसर द्वारा रेड डाल कर लाखों करोड़ों का काला सामानों लाया जाता हैं। इसके लिए कई बार उन्हें धमकियां और विपरीत परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है। पर फ़र्ज़ के सामने वे सबकुछ भूल कर अपना काम करते हैं।

आज हम आपको एक ऐसे आयकर अधिकारी और उनकी टीम के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने अपनी जांबाज़ी का परिचय देते हुए बड़े बिजनेसमैन के घर डाली रेड। उनपर हमला हुआ पर उन्होंने बरामद सारे सबूत और कालेधन को हाथ से जाने नहीं दिया। बॉलीवुड अभिनेता अजय देवगन भी उसकी की बहादुरी के लिए उनकी तारीफ कर चुके हैं।

pyeggu7t9ttchl2rjnbse3a8bgk6yfwq.jpg

इनका नाम है विक्रम पगरिया। विक्रम मध्यप्रदेश में इनकम टैक्स के डिप्टी कमिश्नर हैं। आपको याद होगा हाल ही में बॉलीवुड के हीरो अजय देवगन की एक फ़िल्म रेड आयी थी। पर असल जिंदगी में असली रेड के हीरो हैं विक्रम पगारिया। आपने अगर फ़िल्म रेड देखी हो तो इस फ़िल्म का वो दृश्य आप नहीं भूले होंगे, जिसमें बाहुबली नेता बने सौरभ शुक्ला के घर इनकम टैक्स अफ़सर रेड डालने जाते हैं, लेकिन जान के लाले पड़ जाते हैं।

कुछ ऐसी ही घटना मध्य प्रदेश के मुरैना में हुई है, जहां एडिबल ऑयल बनाने वाली एक फ़र्म पर इनकम टैक्स के डिप्टी कमिश्नर विक्रम पगरिया के नेतृत्व में रेड डाली गयी। टीम में पुलिस के जवान और महिला अफ़सर भी शामिल थीं। मगर, इनकम टैक्स की टीम पर कारोबारी के पिता ने अपने आदमियों के साथ हमला बोल दिया।

बावजूद इसके विक्रम और उनकी टीम नहीं डिगी। छापे में अफ़सरों के हाथ महत्वपूर्ण दस्तावेज, बिना हिसाब की लाखों की नगदी और ज़ेवरात मिले। हमले के बावजूद इनकम टैक्स अफ़सरों ने छापे में बरामद किसी भी चीज़ को हाथ से नहीं जाने दिया। बाद में पुलिस ने आरोपी पिता समेत सभी हमलावरों को गिरफ़्तार कर लिया। हमले में इनकम टैक्स अधिकारियों को चोट भी आई है। अजय देवगन को जब यह पता चला तो वे भी इस असली रेड के हीरो की तारीफ करने से नहीं चूके।

इस ख़बर की जानकारी होने पर  अजय देवगन ने ट्वीट करके इनकम टैक्स अफ़सरों के हौसले की तारीफ़ की है। अजय ने लिखा कि - ''मैं विक्रम पगरिया के नेतृत्व में गये सभी इनटैक्स अधिकारियों की बहादुरी और ड्यूटी के प्रति वफ़ादारी को सलाम करा हूं। यह जानकर व्यथित हूं कि उन पर निर्दयतापूर्वक हमला किया गया। उम्मीद है कि उनको न्याय मिलेगा, ताकि मिसाल क़ायम हो सके।''  

b2wtapsu4jmaxpxg3wjhdhgdg3qqfhax.jpg

दरअसल विक्रम पगरिया की नेतृत्व वाली टीम 10 अक्टूबर को आयकर विभाग की टीम मुरैना के नामी तेल व्यापारी गिविंद बंसल के घर छापा डालने पहुंची थी। सुबह से पहुंची टीम ने जमकर कार्यवाही की। बंसल परिवार ये सब देख कर दंग रह गया। तभी कुछ समय बाद अचानक से गोविंद बंसल और उसके पुत्र संजय बंसल का बीपी बड़ गया। हालत गंभीर देख टीम ने दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया और अपनी कार्यवाही जारी रखी। गोविंद बंसल की हालत ज्यादा खराब होने के कारण डॉक्टरों ने उनको ग्वालियर रेफर कर दिया। वहीं संजय का इलाज मुरैना में ही जारी रखा। दोनों की ऐसी हालत देख बंसल परिवार के कुछ लोग आयकर टीम पर भडक़ उठे, वे बोले -अब तो आप-लोग हमारे साथ ज्यादती कर रहे हैं और टीम के साथ गाली-गलौच और छीना झपटी शुरू कर दी। आरोपी गोविंद बंसल ने आयकर उपायुक्त पगारिया से मारपीट की और उनकी शर्ट फाड़ दी। आरोपी विष्णु बंसल ने महिला आरक्षक से भी धक्का-मुक्की की।

रेड के दौरान टीम ने गोविंद बंसल के घर से 56 लाख रूपये नकदी और गहने जब्त किए थे। जिसमें 6 लाख नकद व 50 लाख के गहने शामिल हैं। वहीं टीम ने जब्त कागजों की जांच की तो करीब 400 करोड़ का फर्जी ट्रांजेक्शन किए जाने की बात सामने आई है। आयकर उपायुक्त विक्रम पगारिया ने गोविंद बंसल, सूरजभान, विष्णु तथा सूरजभान के लडक़े के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा डालने, मारपीट तथा गाली-गलौज का मामला कराया है। आयकर इनवेस्टीगेशन टीम से मारपीट के मामले में प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश सतीशचंद्र शर्मा की अदालत ने शनिवार को सूरजभान ऑइल मिल के मालिक गोविंद बंसल व उनके बेटे विष्णु बंसल की जमानत अर्जी को खारिज कर दिया। इसी अपराध के शेष दो अन्य आरोपियों की जमानत अर्जी पर सोमवार को सुनवाई होगी। 

Share This Article
13732